मध्‍य प्रदेश: कोरोना महामारी के बीच सतना में ऑक्‍सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी का भंडाफोड, 400 सिलेंडर जब्‍त

जिले में जरूरतमंदों से एक सिलेंडर की कीमत 35000 तक वसूली जा रही है. कालाबाजारी की शिकायत पर आज सतना जिला प्रशासन ने जांच पड़ताल प्रारंभ की.

कोरोना के मामलों में हो रहे इजाफे के बीच ऑक्सीजन को लेकर मध्‍य प्रदेश के सतना शहर में हाहाकार मचा हुया है. ऐसी स्थिति में कुछ लोग ऑक्सीजन सिलेंडर की कालाबाजारी करने से नहीं चूक रहे हैं. सतना जिला अस्पताल से भी रहस्‍यमय ठंग से 150 सिलेंडर गायब हो गए थे. दूसरी ओर, जिले में जरूरतमंदों से एक सिलेंडर की कीमत 35000 तक वसूली जा रही है. कालाबाजारी की शिकायत पर आज सतना जिला प्रशासन ने जांच पड़ताल प्रारंभ की और ऑक्सीजन की कालाबाजारी का भंडाफोड़ किया. सिटी मजिस्टेट राजेश शाही और नगर निगम आयुक्त तन्वी हुड्डा के नेतृत्व में पुलिस और प्रशासन की संयुक्त टीम ने सतना बसस्टैंड के पीछे विंध्या इंजीनियरिंग में छापा मारा. यहां से जांच टीम ने करीब 400 ऑक्सीजन सिलेंडर, जिनकी कालाबाजारी की जा रही थी, को जब्‍त किया. जांच टीम को जिला अस्पताल से गायब 150 सिलेंडर भी इसी गोदाम में मिले, इन्‍हें जब्त किया गया है. विंध्या इंजीनियरिंग के प्रोपराइटर राजीव जैन फरार हैं, उनकी तलाश की जा रही है.प्रशासन ने सभी सिलेंडर जब्त कर लिए हैं.

इन सिलेंडरों को कस्टडी में लेकर जिले के कोविड सेंटरों में इस्तेमाल की व्यवस्था कर रही.राजीव जैन के ख़िलाफ क्रिमिनल और सिविल एक्ट के तहत मामला दर्ज करने की कानूनी कार्यवाही चल रही है.जिला कलेक्टर अजय कटसेरिया और पुलिस अधीक्षक धर्मबीर सिंह ने भी मौका मुयायना किया और रासुका के तहत कार्यवाही करने के संकेत दिए.पुलिस अधीक्षक ने बताया कि ज्‍वाइंट आपरेशन हुआ है उसमें बड़ी संख्‍या में ऑक्‍सीजन सिलेंडर जब्‍त किए गए हैं.

Leave a Comment